6 तरीके Mutual Fund में invest करने के

वर्तमान समय में अपने लुभावने रिटर्न्स के कारण mutual funds बहुत लोकप्रिय हो चुके हैं। प्रत्येक उम्र वर्ग का व्यक्ति आपको SIP या lump sum में निवेश करता हुआ मिल जाएगा। आप भी Mutual fund में invest करना चाहते हैं परंतु यह नहीं जानते कि Mutual Fund में invest कौन से तरीके से करें तो आप बिल्कुल सही जगह आए हो।

आज हम आपको बताएंगे कि म्यूच्यूअल फंड में कौन-कौन से प्लेटफार्म से निवेश किया जा सकता है। आप इनमें से किसी भी विकल्प का उपयोग करके mutual funds में निवेश कर सकते हैं।

How to invest in Mutual Fund in Hindi 

Mutual Fund में invest करने के तरीके –

1. सीधे AMC की वेबसाइट से

Mutual Fund में invest करने का ये विकल्प आपको थोड़ा अलग जरूर लगा होगा। परंतु आपको म्यूच्यूअल फंड्स के बारे में थोड़ा बहुत ज्ञान है तो आप सीधे AMC की ऑफिसियल वेबसाइट से mutual fund स्कीम खरीद सकते हैं।

यहां आपको एक फण्ड हाउस के सभी म्यूच्यूअल फंड्स स्कीम में निवेश करने का विकल्प मिल जाता है। वेबसाइट पर आपको एक नया अकाउंट बनाकर लॉगइन करना होता है। उसके बाद आप SIP या lump sum निवेश जो भी आपको करना है कर सकते हैं। आपको लगभग सभी फण्ड हाउसेस की ऍप्स भी मिल जाएगी जिनके माध्यम से भी आप निवेश कर सकते है।

यहां यह बात ध्यान देने योग्य है कि सभी प्लेटफॉर्म्स आपकी पैन कार्ड आधारित KYC मांगते हैं। यह एक वन टाइम प्रोसेस है इसके बाद आप किसी भी प्लेटफॉर्म से इन्वेस्ट कर सकते हैं।

अगर आप सीधे AMC की वेबसाइट से निवेश करते हैं साथ ही आपने तीन से चार अलग फंड हाउस के म्यूच्यूअल फंड्स खरीद रखे है तो आपको अपने पोर्टफोलियो को ट्रैक करने में मुश्किल हो सकती है। परंतु वर्तमान में कई एप्स प्ले स्टोर पर मिल जाएगी जो आपको अपना पोर्टफोलियो एक जगह देखने की सुविधा प्रदान करते है जैसे कि- Asset Plus, Wealth Trust, Cams आदि।

2. AMC के ऑफिस के माध्यम से

अगर आप ऑनलाइन माध्यम का उपयोग नही करते है। तो आप AMC के ऑफिस जाकर भी म्यूच्यूअल फण्ड खरीद सकते है। वहाँ आपको फॉर्म भरने होते है, चेक आदि सबमिट करने होते है। कई AMC या फण्ड हाउस, अपने एजेंट आपके घर भेजकर भी सभी औपचारिकताये पूरी करने की सुविधाएं देते है।

3. एजेंट या ब्रोकर के माध्यम से

यदि आप स्वयं किसी झंझट में नहीं पड़ना चाहते तो आप किसी एजेंट या म्यूच्यूअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर का सहारा ले सकते हैं। म्यूच्यूअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर/ब्रोकर फण्ड हाउस और निवेशक के बीच में एक मध्यस्थ का काम करते हैं।

इसमें एजेंट आपकी तरफ से सभी कार्य करता है। अगर आप एजेंट या ब्रोकर के माध्यम से म्यूच्यूअल फंड में निवेश करते हैं तो आपको रेगुलर प्लान के साथ जाना पड़ सकता है। ब्रोकर के माध्यम से ली गई म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में आपको थोड़ा बहुत ज्यादा एक्सपेंसिस रेश्यो का भुगतान करना होता है।

ब्रोकर या एजेंट के माध्यम से mutual fund खरीदने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको वे निवेश सलाह प्रदान करते हैं। साथ ही आपके लिए पोर्टफोलियो का निर्माण करते हैं।

परंतु ब्रोकर के माध्यम से लिए गए म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम में आप को एक्सपेंस रेश्यो के रूप में थोड़ा ज्यादा कमीशन चुकाना होता है जो आप के मुनाफे को थोड़ा कम कर देता है। ब्रोकर अपने ज्यादा कमीशन के लिए आपको कुछ घटिया प्रदर्शन करने वाली स्कीम या NFO (New fund offer) में निवेश भी करवा सकते हैं।

4. Apps के माध्यम से

आजकल मार्केट में कई एप्स मौजूद है जिनके माध्यम से आप mutual funds में निवेश कर सकते हैं। कई ऍप्स आपको डायरेक्ट और रेगुलर प्लान दोनों में निवेश करने का विकल्प प्रदान करती है।

आप किसी भी विश्वशनीय ऐप के साथ जाकर म्यूच्यूअल फंड में निवेश कर सकते हैं। एप्स के माध्यम से निवेश करना बहुत ही आसान होता है। वन टाइम प्रोसेस के तहत आपको एक अकाउंट बनाना होता है। अकाउंट बनाने के बाद आप उस ऐप के माध्यम से निवेश प्रारंभ कर सकते हैं। कुछ एप्स के उदाहरण हैं- My Cams, Kfinkart, Zerodha Money, ET Money, Paytm Money.

अगर आपके मन में यह सवाल आ रहा है कि कभी यह ऍप्स बंद हुई तो आपके पैसे का क्या होगा? दोस्तों यह एप्स आपका पैसा अपने पास नहीं रखती है। यह ऍप्स रजिस्टार एंड ट्रांसफर के माध्यम से आपका पैसा संबंधित AMC को भेज देती है।

ये ऍप्स बस एक माध्यम से ज्यादा कुछ नही है। आपका समस्त डेटा संबंधित फण्ड हाउस के पास सुरक्षित रहता है। मान लीजिए 10 साल बाद Zerodha Money बंद हो गया। तब भी आप सीधे संबंधित AMC के माध्यम से अपने पैसे निकाल सकते हैं। इसमें आपको कोई समस्या नहीं होगी।

Mutual funds me nivesh karne ke tarike

5. बैंक के माध्यम से

आजकल कई बैंक्स आपको बैंक की ब्रांच से Mutual Fund में invest करने या खरीदने की सुविधा प्रदान करते हैं। आप बैंक में जाकर अपने बैंक से संपर्क करके भी म्यूच्यूअल फंड खरीद सकते हैं।

बैंक भी एक प्रकार से मध्यस्थ की श्रेणी में ही आते हैं। बैंक एक intermediary होने के कारण बस रेगुलर प्लान के द्वारा ही म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट करने की सुविधा देते हैं। 

अगर आपको डायरेक्ट प्लान में निवेश करना हैं तो आपको कोई दूसरा विकल्प देखना होगा। 

6. डीमैट एकाउंट के माध्यम से

अगर आपके पास पहले से एक डीमैट अकाउंट है तो आप चेक कीजिए क्या वह ब्रोकर mutual funds में invest करने की सुविधा प्रदान करता है। अगर आपके पास में डीमैट अकाउंट नहीं है तो आप एक डीमैट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं।

अगर आप डीमेट अकाउंट ओपन करवाते हैं तो आपके अकाउंट की KYC ब्रोकर के द्वारा कर दी जाती है। डीमैट एकाउंट के माध्यम से आप शेयर खरीद और बेच भी सकते हैं। साथ ही अगर आप चाहे तो म्यूच्यूअल फंड भी खरीद सकते हैं।

मुफ्त में अपना डीमैट अकाउंट खोले 

डीमैट के माध्यम से म्यूच्यूअल फण्ड खरीदने से आपके शेयर्स और म्यूच्यूअल फण्ड ट्रैक करने में आसानी होगी। अगर आप स्टॉक्स में ट्रेडिंग करते हैं तो आप अपने ब्रोकर के माध्यम से म्यूच्यूअल फंड में निवेश कर सकते हैं। यह आपके लिए फायदेमंद रहेगा।

अगर आप शेयर में निवेश नहीं करते हैं तो आप एक डिमैट अकाउंट खुलवा कर म्यूच्यूअल फंड में निवेश करें, यह अच्छा विकल्प नहीं होगा। क्योंकि डिमैट अकाउंट रखने के लिए आपको एनुअल मेंटेनेंस शुल्क (AMC) का भुगतान करना होता है जो आपका व्यर्थ जाने वाला है।

निष्कर्ष – How to Invest in Mutual Funds

आजकल इंटरनेट के जमाने में इन्वेस्टिंग बहुत आसान हो चुकी है। मेरी राय के अनुसार आपको म्यूच्यूअल फंड या तो डायरेक्ट AMC की वेबसाइट से या किसी विश्वशनीय ऐप के माध्यम से खरीदना चाहिए। जो आपकी पसंद की AMC में निवेश की सुविधा उपलब्ध करवाती हो।

आशा करता हूँ की आपको How to Invest in Mutual Funds की ये जानकारी अच्छी लगी होगी। 

अगर आपके मन में Mutual Fund में invest करने से संबंधित या mutual funds के बारे में कोई भी सवाल हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमें बता सकते हैं।

Leave a Reply

Punji Guide