स्टॉक मार्किट में शेयर खरीद कर कंपनी में हिस्सा प्राप्त किया जा सकता हैं

क्रिप्टो करेंसी का मतलब होता है एक डिजिटल या वर्चुअल करेंसी

क्रिप्टो करेंसी का मतलब होता है एक डिजिटल या वर्चुअल करेंसी

स्टॉक मार्केट में कम जबकि क्रिप्टो में ज़्यादा रिस्क होती हैं 

स्टॉक मार्केट में और क्रिप्टो दोनों में कम लोकप्रिय शेयर और करेंसी में कम लिक्विडिटी रहती हैं

स्टॉक मार्केट में और क्रिप्टो दोनों में कम लोकप्रिय शेयर और करेंसी में कम लिक्विडिटी रहती हैं

स्टॉक मार्केट सोमवार से शुक्रवार तक खुला रहता है जबकि क्रिप्टो मार्केट हर दिन 24 घंटे खुला रहता है

स्टॉक मार्केट सोमवार से शुक्रवार तक खुला रहता है जबकि क्रिप्टो मार्केट हर दिन 24 घंटे खुला रहता है

स्टॉक के लिए डीमैट अकाउंट चाहिए जबकि क्रिप्टो के लिए नहीं 

स्टॉक के लिए डीमैट अकाउंट चाहिए जबकि क्रिप्टो के लिए नहीं 

शेयर के लिए IPO और क्रिप्टो के लिए ICO आता हैं

शेयर के लिए IPO और क्रिप्टो के लिए ICO आता हैं

स्टॉक मार्केट सेबी से रेगुलेटेड हैं जबकि क्रिप्टो में कोई रेगुलेटर नहीं हैं 

स्टॉक मार्केट सेबी से रेगुलेटेड हैं जबकि क्रिप्टो में कोई रेगुलेटर नहीं हैं