CAGR, XIRR और Annualized Return क्या होते हैं?

एक म्यूच्यूअल फंड निदेशक के तौर पर हम हमेशा म्यूच्यूअल फंड्स रिटर्न्स को लेकर काफी उत्साहित रहते हैं। परंतु आपको म्यूच्यूअल फंड रिटर्न से संबंधित कई ऐसी टर्म्स सुनने को मिल सकती हैं जिससे कि आप कंफ्यूज हो सकते हैं जैसे की CAGR, XIRR और Absolute Returns.

जब आप किसी म्यूच्यूअल फण्ड में SIP के माध्यम से निवेश कर रहे हो तो आपके लिए म्यूच्यूअल फण्ड का सही रिटर्न पता लगा पाना ओर मुश्किल हो जाता हैं क्योंकि SIP में अलग-अलग समय अंतरालों पर निवेश होता हैं।

इन सभी रिटर्न्स टर्म्स का आपको सही से ज्ञान होना आवश्यक हैं जिससे आप अपने म्यूच्यूअल फंड रिटर्न्स का सही से आकलन कर सके।

CAGR क्या होता हैं (What is CAGR in Mutual Funds in Hindi)

स्टॉक मार्केट और म्यूचुअल फंड दोनों में CAGR सर्वाधिक प्रयोग होने वाली टर्म हैं। CAGR की फुल फॉर्म होती हैं Compound Annual Growth Rate.

CAGR आपके म्यूचुअल फंड पर compound ग्रोथ को दर्शाता हैं। ये आपको बताता हैं कि आपका पोर्टफोलियो एक निश्चित समय के दौरान किस औसत वार्षिक दर (Annual Growth Rate) से बढ़ा हैं।

CAGR रिटर्न की कैलकुलेशन में ये माना जाता हैं कि आप जो भी अपने निवेश पर प्रॉफिट कमा रहे हैं वह reinvest कर दिया जाता हैं। CAGR की रेट वार्षिक (annual) होती हैं।

बिलकुल आसान भाषा में समझे तो CAGR बताता हैं कि आपका इन्वेस्टमेंट शुरुवात से अंत तक किस वार्षिक औसत दर से बढ़ा हैं। यहाँ वार्षिक औसत दर का मतलब हैं कि एक वर्ष रिटर्न 10% रहा, अगले वर्ष 20% तो यहाँ दो वर्ष के लिए वार्षिक औसत दर 15% होगी।

चलिए CAGR को एक उदाहरण की सहायता से समझते हैं –

मान लेते हैं कि मिस्टर विकास ने SBI ब्लूचिप फंड में एक लाख निवेश किए हैं। अगर 5 वर्ष बाद यह एक लाख रूपये ₹1.50 लाख बन जाते हैं तो यहां CAGR होगा –

CAGR = (1,50,000 ÷ 1,00,000)∧1/5 – 1 = 8.45%

यहां 8.45% CAGR का मतलब हुआ की यह इन्वेस्टमेंट प्रति वर्ष 8.45% की औसत दर से बढ़ रहा हैं।

CAGR Formula

निम्न फोर्मुले की मदद से CAGR रिटर्न निकाला जाता हैं –

CAGR = (Final Value / Initial Investment value) ∧1/t – 1

आप यहाँ से किसी भी निवेश की सीधी CAGR Calculation कर सकते हैं।

CAGR की सीमाएं (Limitations of CAGR)

म्यूच्यूअल फंड रिटर्न्स निकालने के लिए CAGR काफी ज्यादा प्रयोग में लिया जाता हैं। परंतु आपको इसकी सीमाओं का ध्यान रखना भी बहुत आवश्यक हैं।

(i) CAGR रिटर्न आपको मार्केट की अस्थिरता (volatility) की जानकारी नहीं देता। CAGR की रेट को देखकर एक नए निवेशक को लग सकता हैं की उसका निवेश CAGR की दर से हर वर्ष बढेगा। लेकिन ऐसा नहीं होता।

ऊपर वाले उदाहरण में मिस्टर विकास को 5 वर्षों के लिए 8.45% के वार्षिक रिटर्न मिल रहे हैं लेकिन ये रिटर्न प्रत्येक वर्ष के लिए समान न होकर अलग-अलग होते हैं

ये 8.45% के CAGR वाले रिटर्न ऐसे भी हो सकते हैं –

Year Initial Investment Current Investment value CAGR
1st Year ₹1,00,000 ₹1,03,000 3%
2nd Year ₹1,03,000 ₹1,00,980 -1.96%
3rd Year ₹1,00,980 ₹1,17,050 15.91%
4th Year ₹1,17,050 ₹1,16,090 -1.82%
5th Year ₹1,16,090 ₹1,50,000 29.21%

इस टेबल में आपने देखा कि ये इन्वेस्टमेंट हर वर्ष अलग-अलग दर से बढ़ रहा हैं परन्तु 5 वर्ष का औसत CAGR 8.45% हैं।

मान लेते हैं कि आपने ₹1,00,000 का निवेश मात्र 3 वर्ष के लिए किया हैं तो यहाँ 3 वर्ष के लिए CAGR 5.39% ही होगा।

इस प्रकार CAGR आपको रिटर्न की overall पिक्चर बताता हैं न की विभिन्न मार्केट कंडीशन में फण्ड का प्रदर्शन।

(ii) स्टॉक मार्केट और म्यूच्यूअल फण्ड लम सम इन्वेस्टमेंट के रिटर्न्स को मापने के लिए CAGR बेस्ट तरीका हैं।

परन्तु अतिरिक्त निवेश जो की अलग-अलग समय अंतरालो पर किया गया हैं उनके लिए CAGR सही साबित नहीं होता। ऐसा निवेश जो वन टाइम किया गया हैं उनके लिए CAGR बेस्ट होता हैं। परन्तु SIP के लिए CAGR सही पिक्चर नहीं देता।

अब बात आती हैं की SIP रिटर्न्स को मापने के लिए कौनसा तरीका प्रयोग किया जा सकता हैं। SIP रिटर्न मापने के लिए बेस्ट विकल्प XIRR होता हैं।

XIRR क्या होता हैं (What is XIRR in Mutual Funds in Hindi)

CAGR लम सम इन्वेस्टमेंट के वार्षिक रिटर्न निकालने का बेस्ट तरीका होता हैं। परन्तु ऐसा निवेश जिसमें अलग-अलग समय पर Cash inflow ओर Cash outflow होता हैं उसके लिए XIRR का प्रयोग किया जाता हैं।

XIRR में SIP के माध्यम से किये निवेश में STP और SWP जैसे ट्रांसएक्शन को ध्यान में रखकर ही रिटर्न निकाले जाते हैं।

XIRR की फुल फॉर्म Extended Internal rate of Return होती हैं।  म्यूच्यूअल फण्ड SIP के केस में प्रत्येक SIP इन्सटॉलमेंट अलग-अलग समय के लिए इन्वेस्ट रहती हैं।

उदाहरण के लिए अगर आपने 10 वर्ष के लिए कोई SIP की हैं तो इसकी पहली इन्सटॉलमेंट 10 वर्ष के लिए, दूसरी इन्सटॉलमेंट 9 वर्ष 11 महीने, तीसरी इन्सटॉलमेंट 9 वर्ष 10 महीने और आगे ऐसे ही निवेशित रहेगी।

इसमें हर एक इन्सटॉलमेंट अलग-अलग समय के लिए निवेशित रहती हैं। इसलिए प्रत्येक निवेश की समय अवधि का सही पता लगाकर रिटर्न निकालना जरुरी हो जाता हैं।

मान लेते हैं की मिस्टर विजय ने SBI Bluechip Fund में 5 वर्ष पूर्व ₹5,000 की मासिक SIP शुरू की। 5 वर्ष बाद में कुल निवेश होगा 3 लाख रूपये जिसकी आज की तारीख में ₹4.90 लाख की वैल्यू होगी। इस पांच वर्ष के निवेश के दौरान मि. विजय का XIRR रिटर्न 19.75 रहा।

अगर मि. विजय ने 5 वर्ष पूर्व 3 लाख रूपये लम सम निवेश किये होते तो तो आज इनकी वैल्यू ₹5.89 लाख हो गई होती।  इस दौरान इस निवेश का CAGR 14.43% रहता।

इस तरह SIP में XIRR जबकि लम सम में CAGR बेस्ट विकल्प रहता हैं।

यहाँ ये बात ध्यान देने योग्य हैं की XIRR और CAGR दोनों वार्षिक (annual) होते हैं। इसका सीधा सा अर्थ हैं कि अगर किसी फण्ड का CAGR 12% हैं तो वो फण्ड एक वर्ष का 12% रिटर्न बना कर दे रहा हैं।

Stocks के लिए XIRR

स्टॉक मार्केट में अगर आपने किसी शेयर में अलग-अलग समय पर निवेश किया हैं या किसी शेयर में SIP में कर रहे हैं तो ऐसे निवेश के लिए XIRR प्रयोग किया जा सकता हैं।

XIRR Calculation

इस रेट की कैलकुलेशन आप Excel की सहायता से कर सकते हैं –

  • आप अपने Periodic इन्वेस्टमेन्ट की तारीखों को एक कॉलम में नोट कर ले।
  • दूसरे कॉलम में अपने निवेश की राशि लिखे। अगर Cash Outflow हैं तो राशि को नेगेटिव में लिखे और Cash Inflow हैं तो पॉजिटिव में लिखे।
  • लास्ट कॉलम में रिडेम्पशन की राशि लिखे या अपने इन्वेस्टमेंट की करंट वैल्यू।
  • इसके बाद आप ये फार्मूला लगाए =XIRR(Select all figures of amount column, Select all dates) × 100
  • फार्मूला लगाने के बाद एंटर प्रेस करे। आपको अपने निवेश की XIRR प्राप्त हो जाएगी।

xirr-calculation-hindi

XIRR और IRR में क्या अंतर हैं?

IRR यानि कि इंटरनल रेट ऑफ रिटर्न। यह फार्मूला तब प्रयोग किया जाता हैं जब आप वर्ष में सिर्फ एक बार ही निवेश करते हैं। IRR में मासिक इन्वेस्टमेंट को कंसीडर्ड नहीं किया जाता हैं।

अगर आप अपनी SIP को IRR के माध्यम से ही कैलकुलेट करते हैं तो यह मानता है कि आपकी प्रत्येक SIP इंस्टॉलमेंट साल भर के लिए निवेशित रही हैं। इस रेट में समय को कंसीडर नहीं किया जाता हैं।

जबकि XIRR में समय को भी ध्यान में रखा जाता हैं। अगर आपका कोई निवेश वर्ष में मात्र 6 महीने के लिए निवेशित रहा हैं तो XIRR उसे 6 महीने ही निवेशित मानेगा।

वही IRR उसे पूरे 12 महीने के लिए निवेश मानता जो की गलत होता।

इसलिए अगर आपका इन्वेस्टमेंट वर्ष में अलग-अलग समय पर निवेश होता हैं तो आपके लिए XIRR बेस्ट विकल्प होगा।

ये भी पढ़े –

Absolute Return क्या हैं (What is Absolute Return)

Absolute रिटर्न निवेश पर रिटर्न निकालने का एक साधारण तरीका हैं। Absolute Return की गणना में समयावधि को ध्यान में नहीं रखा जाता हैं।

ये रिटर्न निवेश पर कुल प्रॉफिट को परसेंटेज के रूप में व्यक्त करता हैं। आसान भाषा में समझे तो आपके निवेश पर आपको कितना प्रतिशत प्रॉफिट हुआ?

यदि 2 वर्ष के लिए एक लाख रूपये के निवेश के बाद ₹20,000 का लाभ होता हैं तो यहाँ एब्सलूट रिटर्न होगा –

Absolute Return = (Profit / Investment)  × 100

= (₹20,000 / 1 लाख ) × 100 = 20%

इस प्रकार इस निवेश पर 20% का प्रॉफिट हुआ हैं। इस उदाहरण में 20% का रिटर्न आया हैं। परंतु एब्सलूट रिटर्न समय अवधि को इग्नोर करता हैं जिससे ये रिटर्न भ्रामक हो सकते हैं।

इसी वजह से ये इतना लोकप्रिय भी नहीं हैं।

SIP के लिए Absolute Return

SIP के रिटर्न्स निकालने के लिए भी Absolute Return का प्रयोग किया जा सकता हैं।

Date SIP Amount Current Value
1 जनवरी ₹5,000 ₹4,950
1 फरवरी ₹5,000 ₹10,350
1 मार्च ₹5,000 ₹18,100
1 अप्रैल ₹5,000 ₹20,900
Redemption 1 मई ₹21,000
कुल निवेश ₹20,000 ₹1,000 (लाभ)
Absolute Return (₹1000 / ₹20,000) ×100 =5%
XIRR Returns 26.66%

यहाँ Absolute Return सिर्फ 5% आ रहा हैं जो की प्रॉफिट और निवेश के आधार पर निकाला गया हैं। परन्तु XIRR 26.66% रहा हैं जो निवेशित समय (invested period) के आधार पर निकाला गया हैं। XIRR रिटर्न बताता हैं की निवेश ने invested period के दौरान कितना प्रतिशत रिटर्न बनाया हैं।

निष्कर्ष (What is CAGR)

अगर सारांश में बात की जाए तो अगर आप लम सम निवेश करते हैं तो आपको निश्चित तौर पर CAGR रिटर्न का प्रयोग करना चाहिए।

यदि आप म्यूच्यूअल फण्ड में SIP करते हैं या स्टॉक में SIP करते हैं तो आपको XIRR रिटर्न को सही मानना चाहिए।

वही अगर आप ये देखना चाहते हैं की आपने कितना लगाया और आपको कितना प्रॉफिट मिला तो फिर आप Absolute Return का इस्तेमाल कर सकते हैं।

दोस्तों, अगर आपके कोई सवाल हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं और What is CAGR in Mutual Funds की ये जानकारी बढ़िया लगी हो तो इसे सोशल मीडिया नेटवर्क पर जरूर शेयर करें।

Leave a Reply

upstox banner
Punji Guide