8 तरीकों से पैसे बचाये – How to save money tips

हम स्कूल से लेकर कॉलेज तक निरंतर एक अच्छे पैसे कमाने वाली जॉब के लिए पढ़ाई करते हैं। हम सब पैसे तो कमाते हैं परंतु हम में से अधिकांश यह नहीं सीख पाते कि पैसे का प्रबंधन कैसे करें (How to manage money).

एक ₹10,000 की नौकरी करने वाला भी पैसे नहीं बचा पाता न ही ₹50,000 की नौकरी करने वाला। अब सवाल ये उठता है कि पैसे कमाने के बाद उसे बचाए कैसे। जिससे हम बचत किए पैसों को सही जगह निवेश करके अच्छा रिटर्न कमा सकें। चाहे आप कितने भी पैसे क्यों न कमा लो जब तक आप कुछ पैसे बचाओगे नहीं पैसे कमाने का कोई मतलब नहीं रह जाता।

दोस्तों इस पर्सनल फाइनेंस के महत्वपूर्ण मुद्दे पर आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से आपको जानकारी दूंगा कि पैसे कैसे बचाएं (How to save money in Hindi).  अगर आप इन Money saving Tips को सही से फॉलो करेंगे तो बचत करना (saving) आपके लिए कोई कठिन कार्य नहीं होगा।

मैं आपको कोई भी कॉम्प्लिकेटेड पॉइंट्स नहीं बताऊंगा जैसे की आप हर महीने एक बोरिंग बजट बनाओ। जिसे करने में लगभग सभी व्यक्ति फ़ैल हो जाते हैं। लेकिन आगे बढ़ने से पहले बात करते हैं कि आखिर हमें मनी सेविंग क्यों करनी है जो हमें मोटिवेशन देने का काम करें।

पैसे क्यों बचाये?

पैसे बचाने का हमारा मुख्य उद्देश्य होता है कि हम हमारी आय से कुछ पैसा बचा सके जिससे कि हमारे सपने साकार हो सके। इसी क्रम में हम अपने सेव किए गए पैसों को कहीं ना कहीं निवेश कर देते हैं जिससे हम अपने लक्ष्य की ओर तेजी से बढ़ सके।

अगर आप दिन के मात्र ₹30 भी सेव कर सकते हैं जो कि आप आसानी से कर सकते हैं जैसे कि बाहर चाय ना पीकर या सिगरेट ना पीकर। इस प्रकार आप 1 महीने के ₹1,000 सेव कर सकते हैं। अगर यह ₹1,000 आप SIP के माध्यम से हर महीने निवेश करते हैं तो लगभग 30 वर्ष में यह पैसे 60 लाख बन जायेंगे। मेरी राय में यह राशि आपको मनी सेविंग करने के लिए प्रेरित करने के लिए काफी है।

पैसे कैसे बचाये – How to save money in Hindi

1. क्रेडिट कार्ड का उपयोग करे

पैसे बचाने वाली एडवाइस में आपको लगभग सभी क्रेडिट कार्ड उपयोग नहीं करने की सलाह देंगे। परन्तु मेरी राय कुछ अलग हैं और मेरी आशा हैं की अगर आप पैसे बचाने के लिए इतनी टिप्स फॉलो करने वाले हैं तो आप क्रेडिट कार्ड का भी दुरुपयोग नहीं करेंगे।

अगर आपके पास में क्रेडिट कार्ड है या आप क्रेडिट कार्ड ले सकते हैं तो आपको क्रेडिट कार्ड का उपयोग जरूर करना चाहिए। क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने का मुख्य फायदा है कि यह आपको ब्याज मुक्त क्रेडिट की सुविधा देता है वह भी 45 से 50 दिनों के लिए।

अगर आपको इमरजेंसी में कुछ सामान ख़रीदना है तो आप किसी से ब्याज पर पैसे उधार लेने के बजाय क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर सकते हैं।  जब बाद में आपके पास पैसे वापस आ जाएं तो आप क्रेडिट कार्ड का भुगतान कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड के फायदे

  • इमरजेंसी में मददगार।
  • आपको 45 से 50 दिन की फ्री क्रेडिट की सुविधा मिलती है।
  • क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने पर हमें कई रिवार्ड्स प्राप्त होते हैं जिन्हें हम कैश या कुछ सामान लेकर भुना सकते हैं।
  • कई बार ऑनलाइन खरीदारी करने पर हमें अच्छा-ख़ासा डिस्काउंट मिल जाता हैं।

इस प्रकार क्रेडिट कार्ड हमें अनचाहे ब्याज से बचाता है। साथ में हमें 50 दिन का ग्रेस पीरियड भी देता है जिससे हम अपने कैश को दूसरी जगह इस्तेमाल कर सकते हैं।

क्या सभी को क्रेडिट कार्ड इस्तेमाल करना चाहिए?

वैसे क्रेडिट कार्ड सभी को नहीं मिलता है। बैंक इन्हें सिर्फ नियमित आय वाले व्यक्ति को या अच्छे क्रेडिट स्कोर वाले व्यक्ति को ही ऑफर करता हैं। लेकिन क्रेडिट कार्ड के फ़ायदों के साथ आपको कुछ बातों का भी ध्यान रखना होगा।

यह आपके लिए तब तक नुकसानदायक नहीं है जब तक आप खुद लापरवाही नहीं बरतेंगे। इसलिए हमेशा अपने क्रेडिट कार्ड का नियमित रूप से देय तिथि पर भुगतान जरूर करें और क्रेडिट कार्ड पर अनावश्यक खर्चे करने से जरूर बचे।

अगर आप यह दोनों चीज़े नहीं कर पाते हैं तो आपको कतई भी क्रेडिट कार्ड का उपयोग नहीं करना चाहिए।

2. पहले सेविंग करें बाद में खर्चा करे

प्रसिद्ध फाइनेंस लेखक रॉबर्ट कियोसाकि ने कहा हैं की “Pay yourself first”

हम में से अधिकतर लोग वित्तीय अशिक्षा के कारण अपनी इनकम या सैलरी से पहले अपने सभी खर्चे करते हैं और ऐसा सोचते हैं कि खर्च करने के बाद जो पैसा बचेगा वह सेव करेंगे।

लेकिन अधिकांश मामलों के अंत में हमारे पास कुछ पैसा नहीं बचता हैं। इसलिए लगभग 90% लोग हमेशा पैसो की कमी से जूझते रहते हैं।  इससे ऊपर उठने के लिए आपको कुछ बोल्ड निर्णय लेने होंगे।

How to save money का ये सबसे कारगर तरीका हैं कि आप अपनी महीने की सैलरी या इनकम प्राप्त होते ही न्यूनतम 20% अलग निकाल ले। आप इन्हें म्यूच्यूअल फंड, RD, स्टॉक्स, PPF जैसे विकल्पों में निवेश कर सकते हैं।

यदि आपकी सैलरी ₹10,000 है तो आप सेविंग के लिए ₹2,000 पहले से निकाल सकते हैं। आपको ये समझना होगा की आपकी सैलरी ₹8,000 ही हैं और आपको उसमें अपना घर चलाना है। इसके लिए आप अपने निवेश को स्वचालित भी कर सकते हैं।

मान लीजिए आप म्यूच्यूअल फंड में SIP कर रहे हैं या बैंक में रेकरिंग डिपाजिट कर रहे हैं तो आप बैंक ऑटो डेबिट के ऑप्शन को चुन सकते हैं। ऑटो डेबिट की तारीख आपकी सैलरी आने की एक-दो दिन के अंदर ही होनी चाहिए।

अगर आप ऐसा सोचते हैं कि मेरी सैलरी से अगर 20% कम हो गया तो मेरा घर कैसे चलेगा। इसके लिए में एक वास्तविक वाकिया सुनाता हूँ।

मेरा एक मित्र था पहले उसकी ₹20,000 की जॉब थी तब भी उसको अपना घर चलाने में समस्या आती थी। बाद में उसको ₹50,000 की जॉब लग गई। लेकिन फिर भी उसको ये पैसे अपना घर चलाने में कम पड़ते हैं। इसीलिए किंतु-परन्तु  छोड़कर आज से ही इन मनी सेविंग टिप्स को फॉलो करना शुरू करें। इससे आपके न केवल पैसे बचेंगे बल्कि अगर आप पैसों को सही जगह निवेश करेंगे तो ये तेजी से ग्रो भी करेंगे।

3. शॉपिंग पर जाने से पहले लिस्ट बनाये

आप हर महीने शॉपिंग पर तो जाते ही होंगे और उसमें आपका बहुत सा पैसा खर्च भी होता होगा। यह मेरा व्यक्तिगत अनुभव है और शायद आपका भी हो जब भी हम शॉपिंग पर जाते हैं तो आवश्यक चीजों के साथ-साथ हम कई अनावश्यक चीजें भी ले आते हैं।

हम खरीदारी करते समय कई ऐसी चीजें खरीद लेते हैं जो हमारे कुछ खास काम की नहीं होती और घर में ऐसे ही पड़ी रहती हैं। इन चीजों में हमारा बहुत सा पैसा ऐसे ही फालतू खर्च हो जाता है। अगर हम हर महीने ऐसा कर रहे हैं तो सोचिये साल भर में हम कितना पैसा फिजूल खर्च कर रहे हैं।

इसलिए जब भी बाजार में आप सामान लेने जाए, पहले से अपने जरुरी सामान की लिस्ट तैयार कर लें। उस लिस्ट के अनुसार ही आप अपनी खरीदारी करें। इस Money saving tip से हर महीने आपके कुछ पैसे जरूर बचेंगे।

आप हमें इंस्टाग्राम पर ऐसी Updates के लिए फॉलो कर सकते हैं।

4. फ़िज़ूल खर्चे न करें

इस पैसे कैसे बचाये टिप में, मैं आपको ऐसे ख़र्चों के बारे में बताऊंगा जिसे ना करें ही तो अच्छा होता हैं। हम हमारी रोजमर्रा की जिंदगी में रोज ऐसे खर्चे करते हैं जिनका ना करना ही फायदेमंद होता है जैसे कि सिगरेट पीना, चाय पीना, जरूरत से ज्यादा सिनेमा हॉल में मूवी देखना या बाहर खाना खाना।

इनके अलावा भी अनेक ऐसे खर्चे होते हैं जिन्हें हम कम कर सकते हैं। यह खर्चे वैसे बहुत कम लगते हैं परंतु थोड़े-थोड़े करके ही ये बहुत ज्यादा हो जाते हैं।

उदाहरण के लिए यदि आप रोज ₹10 की एक सिगरेट पीते हैं। इस प्रकार आप महीने में औसत ₹300 और 1 साल में ₹3,600 सिगरेट में खर्च कर देते हैं। अगर इस महंगाई के दौर में आपको आपकी वित्तीय हालत पुख्ता बनाए रखनी हैं तो ऐसे फिजूल खर्च से बचें। खासतौर पर जब वे आपके स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव डालते हैं।

5. ऑनलाइन शॉपिंग करें

भारत में पिछले कुछ समय से ऑनलाइन शॉपिंग की लोकप्रियता काफी तेजी से बढ़ी हैं। इसकी वजह हैं की कई ऐसे सामान होते हैं जो की ऑनलाइन सस्ते मिलते हैं।

जब भी आपको कोई चीज की आवश्यकता हो उसे ऑनलाइन जरूर सर्च करें। यदि वह आपको ऑनलाइन ज्यादा सस्ती मिल रही हैं तो उसे ऑनलाइन ही ख़रीदे। आप ऑनलाइन शॉपिंग के लिए फ्लिपकार्ट, अमेजॉन जैसी वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

यह ऑनलाइन पोर्टल समय-समय पर कई प्रोडक्ट्स पर डिस्काउंट डील लेकर आते हैं। इसलिए जब भी आपकी आवश्यकता की वस्तु आपको डिस्काउंट पर मिले आप उसे खरीद ले। साथ ही ऑनलाइन शॉपिंग पर आपको क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड पर कई ऑफर्स मिलते रहते हैं जो आपकी सेविंग को ओर बढ़ा देते हैं।

लेकिन यहाँ पर आपको ये बात ध्यान देनी हैं की जब की डिस्काउंट ऑफर्स आये आप अनावश्यक सामानों की खरीददारी करने से जरूर बचे।

6. विलासितापूर्ण (Luxuries) वस्तुएं खरीदने से बचे

मानव प्रकृति होने के कारण हम में से अधिकतर व्यक्ति किसी दिखावे के चक्कर में आकर या होड़ में विलासितापूर्ण वस्तुएं निरंतर खरीदते  रहते हैं।

अकॉउंटस के हिसाब से यह हमारे लिए एसेट (asset) जरूर होती है परंतु वास्तव में यह हमारे लिए दायित्व बन जाती हैं। जैसे कि आपने बिना जरूरत के ही महंगी कार खरीद ली। पहले आप इस कार के लोन के दायित्व में फंसते हैं बाद में इसके मेंटेनेंस, पेट्रोल-डीजल के नियमित खर्चों में लगातार फंसे रहते हैं।

मैं ऐसा भी नहीं कह रहा कि आपको कार या अन्य लक्सरी आइटम नहीं खरीदने चाहिए। बेशक आप खरीदें परंतु आपको जब इनकी आवश्यकता हैं। परंतु किसी को दिखाने के लिए या किसी की होड़ में हमको जबरन बोझ तले नहीं दबना चाहिए।

विलासितापूर्ण चीजें अनेक प्रकार की होती है जैसे कि महंगी घड़ी, महंगे कपड़े, महंगा टीवी या जरूरत से ज्यादा ज्वेलरी। यह हर व्यक्ति की आवश्यकता पर निर्भर करती हैं।

यह सभी विलासिता पूर्ण वस्तुएं आप किसी से ऋण लेकर या पर्सनल लोन लेकर खरीदते हैं। नियमित रूप से ऐसा करने पर आप हमेशा ऋण के बोझ तले दबे रहेंगे जिससे कि सेविंग का तो कोई सवाल ही नहीं उठता।

7. वस्तुओं के alternate ढूंढिए

वस्तुओं का alternate???

कुछ समय पहले की बात है मैं किसी फेमस ब्रांड का आटा ₹45 किलो लेकर आता था। एक दिन उस दुकान पर उस ब्रांड का आटा नहीं था परंतु एक दूसरे ब्रांड का आटा उपलब्ध था जो कि ₹30 किलो था। लेकिन मैंने दोनों आटो की क्वालिटी में कोई भी अंतर महसूस नहीं किया।

आप देख सकते हैं कि बिना क्वालिटी के साथ कॉम्प्रोमाइज किए मुझे सस्ते दाम पर उस सामान का अलटरनेट मिल गया। मार्केट में हमेशा ऐसे  नए ब्रांड आते रहते हैं जो मार्केट में टिकने के लिए अपने उत्पाद को सस्ते और अच्छी क्वालिटी के साथ ऑफर करते हैं।

इसलिए आपको किसी नामी-गिरामी ब्रांड पर निर्भर रहने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं हैं। हमेशा वस्तुओं के अच्छे विकल्प ढूंढने का प्रयास कीजिए जो आपकी जेब को कम ढ़ीली करें।

8. Still need More

इस पॉइंट के द्वारा मैं आपको कुछ पॉइंट वाइज मनी सेविंग टिप्स दूंगा जो आपको पैसे बचाने में बहुत काम आएगी।

  • जिन सेवाओं का आपने सब्सक्रिप्शन ले रखा है परंतु इस्तेमाल नहीं करते उनकी मेंबरशिप बंद कर दे जैसे कि जिम, मैगज़ीन की सब्सक्रिप्शन।
  • अगर आप अकेले कहीं जा रहे हैं तो निजी वाहन का प्रयोग करने के बजाय पब्लिक ट्रांसपोर्ट का प्रयोग करें जिससे आपका खर्चा कम होगा साथ ही आप पोल्युशन कम करने में अपना योगदान दे देंगे।
  • बिजली के इस्तेमाल में बिल्कुल भी लापरवाही ना बरतें। इसमें अधिकतर लोग आलस्य करते हैं जो कि बिल ज्यादा होने का कारण बनता हैं। अनावश्यक बिजली खर्च को कम करने का जरूर प्रयास करें।
  • जो चीजें आपके घर में बेकार पड़ी है जैसे कि कोई टेबल, पुराना फोन उन्हें आप OLX के माध्यम से बेच सकते हैं। इन अतिरिक्त पैसों को आप निवेश कर सकते हैं।
  • अपने टैक्स को बचाने के लिए PPF, ELSS म्यूच्यूअल फण्ड, सुकन्या समृद्धि योजना में जरूर निवेश करें।
  • जो सामान आपके बहुत ही कम काम आता हैं उसे खरीदने से बचे। अगर वह किराए पर उपलब्ध है तो आप उसे किराए पर ले सकते हैं। जैसे की हम कहीं घूमने जा रहे हैं और हमने DSLR कैमरा खरीद लिया। अब यह कैमरा हमेशा हमारे काम नहीं आएगा। इसलिए इनमे बड़ा पैसा खर्च करने से बचे।
  • दाढ़ी बनाने का खर्च पुरुषों के द्वारा बहुत ज्यादा किया जाता हैं। अगर एक दाढ़ी बनाने का खर्च ₹50 भी हो और आप महीने में 3 बार दाढ़ी बनवाते हो तो आप कुल ₹150 महीना खर्च कर देते हैं। इसलिए अगर हो सके तो अपनी दाढ़ी स्वयं बनाने का प्रयास करें।
  • अपनी सेविंग हैबिट में अपने फॅमिली मेंबर्स को भी शामिल करे।
  • कभी भी ज्यादा कैश अपने पास न रखे।

ये भी पढ़े – 7 टिप्स से अपने पैसो को कैसे बढ़ाये

निष्कर्ष – How to save money

पैसा हर कोई कमाता हैं कोई ज्यादा कमाता हैं कोई कम। परन्तु अमीर वही बनता हैं जो पैसे बचाकर उन्हें निवेश करे। सेविंग करने का एक गोल्डन रूल हैं की आप इसे अनुशासित और नियमित तरीके से करे।

आपके मन में हमेशा ये सवाल चलता रहता हैं की पैसे कैसे बचाए। इसका जवाब मैंने इस आर्टिकल में दे दिया हैं। आप इसमें अपनी तरफ से भी कुछ योगदान करके ओर तरीकों से भी पैसे बचा सकते हैं।

दोस्तों, पैसे कैसे बचाये (How to save money) और Money saving tips की ये जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ जरूर शेयर करे।

Leave a Reply

Punji Guide