ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए | Option Trading Guide

स्टॉक मार्केट में पैसा कमाने के अनेक तरीके हैं जैसे की लॉन्ग टर्म इन्वेस्टिंग, स्विंग ट्रेडिंग, इंट्राडे ट्रेडिंग और ऑप्शन ट्रेडिंग। लेकिन इन सब तरीकों में ऑप्शन ट्रेडिंग एक ऐसा तरीका हैं जिसमें बहुत ही कम समय में अधिक पैसा बनाया जा सकता हैं।

तो आज इस पोस्ट में हम ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए की विस्तार में बात करेंगे। यदि आप शेयर बाजार में नए हैं तो आपकी यह पोस्ट ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाने में बहुत मदद करेगी।

Contents hide

ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए (Earn from Option Trading)

ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाने के लिए आपको ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम फॉलो करने होंगे। इसमें कुछ महत्वपूर्ण नियम शामिल रहते हैं जो की आपको ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाने में बहुत अधिक सहायता करते हैं।

निम्न स्टेप्स को फॉलो करके आप शेयर मार्केट में ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमा सकते हैं।

Option Trading se Paise kaise kamaye

1. सबसे पहले सीखें

चाहे आप मानों या न मानों ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाने के लिए सबसे पहले सीखना जरुरी हैं। ऑप्शन ट्रेडिंग में 98% लोग फ़ैल हो जाते हैं और एक बड़ा नुकसान करके बाहर निकलते हैं। क्योंकि वो सिर्फ पैसा कमाने के लिए जल्दबाजी करते हैं। ऑप्शन ट्रेडिंग में अर्निंग से महत्वपूर्ण लर्निंग हैं।

स्टॉक मार्केट में चाहे फिर वो लॉन्ग टर्म इन्वेस्टिंग हो या फिर शॉर्ट टर्म ट्रेडिंग आपको सीखना तो पड़ेगा। एक स्टडी के मुताबिक जिस काम को आप सीखकर शुरू करते हैं उसमें सफल होने की संभावना 5 गुना तक अधिक हो जाती हैं।

लेकिन अब सवाल यह उठता हैं की आख़िर ऑप्शन ट्रेडिंग को कैसे सीखें। आज के इंटरनेट के युग में ऑप्शन ट्रेडिंग कैसे सीखें के कई जवाब हैं जैसे की –

आपको को जो भी तरीका अच्छा लगता हैं आप उसके द्वारा ऑप्शन ट्रेडिंग सीख सकते हैं। यदि आप वीडियो फॉर्म में ऑप्शन ट्रेडिंग सीखना चाहते हैं तो आप कोई ऑनलाइन कोर्स ले सकते हैं या किसी अच्छे यूट्यूब चैनल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

दूसरी ओर यदि आपको पढ़कर सीखना पसंद हैं तो आप ब्लॉग्स और ऑप्शन ट्रेडिंग बुक्स का सहारा ले सकते हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

इस तरह यदि आप ऑप्शन ट्रेडिंग सीखकर शुरू करते हैं तो आप उन सब लोगों से अलग हो जाते हैं जो सिर्फ भेड़ चाल फॉलो करते हैं। तो ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए की सबसे पहले स्टेप ही इसे सीखना हैं।

2. एक अच्छे स्टॉक ब्रोकर का चयन करें

जब आप ऑप्शन ट्रेडिंग सीख लेते हैं तो आपको वास्तविक ट्रेडिंग करने के लिए एक डीमैट एंड ट्रेडिंग अकाउंट खुलवाना होता हैं। यह डीमैट अकाउंट घर बैठे-बैठे ऑनलाइन भी खुलवा सकते हैं। यदि सिर्फ आपको सिर्फ ट्रेडिंग ही करनी हैं तो आपको एक डिस्काउंट स्टॉक ब्रोकर के साथ जाना चाहिए क्योंकि इनकी ब्रोकरेज काफी कम रहती हैं।

ट्रेडिंग के लिए एक बेस्ट ब्रोकर का चयन सबसे महत्वपूर्ण होता हैं। इसलिए आपको किसी विश्वशनीय और रेपुटेड स्टॉक ब्रोकर के साथ अपना डीमैट अकाउंट खुलवाना चाहिए।

यदि आज के समय देखा जाएं ज़ेरोधा और अपस्टॉक्स सबसे बढ़िया डिस्काउंट ब्रोकर्स हैं। यदि आप इनके साथ अपना डीमैट अकाउंट ओपन करवाएंगे तो आपको सबसे कम ब्रोकरेज देनी होगी। बाकी यदि आप किसी फुल सर्विस ब्रोकर के साथ अकाउंट ओपन करवाते हैं तो आपका पूरा प्रॉफिट सिर्फ ब्रोकरेज में चला जायेगा। 

3. पेपर ट्रेडिंग से शुरुवात करें

जब ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए की बात आती हैं तो वहां सीखने के बाद स्वयं को आजमाना जरुरी हो जाता हैं। पेपर ट्रेडिंग से आपकी अच्छी प्रैक्टिस हो जाती हैं और आपके आत्मविश्वास में भी बढ़ोत्तरी होती हैं।

ऑप्शन ट्रेडिंग का मतलब यह नहीं हैं की आपको सिर्फ ट्रेड करना हैं। यहाँ पर आपको सभी चार्ट पैटर्न, लॉजिक, मार्केट न्यूज़ आदि का ध्यान रखना होता हैं। इन सब में महारत हांसिल करने के लिए जरुरी हैं कि आप पेपर ट्रेडिंग से शुरुवात करें।

पेपर ट्रेडिंग का मतलब होता हैं कि आप वास्तविक ट्रेडिंग नहीं करेंगे बल्कि पेपर पर ट्रेडिंग करेंगे। जैसे की आपको किसी स्टॉक में अच्छी बढ़ोत्तरी की संभावना नज़र आ रही हैं तो आप उसे ख़रीद लेंगे। इस buy price को आप एक ब्लेंक पेपर पर नोट कर लीजिये। जब आपका टारगेट पूरा हो जाएं तो उसे sell कर दीजिये। यह प्राइस भी आपको पेपर पर नोट करनी हैं।

इस प्रकार कुछ दिनों तक प्रैक्टिस कीजिए और देखिये की आप कितना प्रॉफिट कमा रहे हैं। जब आपकी एक्यूरेसी काफी बढ़िया हो जाए तो आपको वास्तविक ऑप्शन ट्रेडिंग की ओर रुख करना चाहिए।

यदि पेपर ट्रेडिंग पर भी प्रॉफिट नहीं कर पा रहे हैं तो आपको वापस ऑप्शन ट्रेडिंग के बारें में सही से सीखना चाहिए। क्योंकि जब आप पेपर ट्रेडिंग में ही प्रॉफिट नहीं कमा पा रहे तो वास्तविक ट्रेडिंग में कैसे कमा पाएंगे।

ये भी पढ़ें:

4. निफ़्टी या बैंक निफ़्टी से शुरुवात करें

यदि आप ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाना चाहते हैं तो आप स्टॉक्स के बजाय निफ़्टी या बैंक निफ़्टी से ऑप्शन ट्रेडिंग शुरू कर सकते हैं। मतलब की एक नए ट्रेडर के रूप में आप कई बार ऐसे स्टॉक में फंस जाते हैं जिसमें लिक्विडिटी होती ही नहीं हैं।

जैसे की आपने कोई स्टॉक बाय किया हैं लेकिन जब आप उसे बेचने जाते हैं तो आपको कोई बायर ही नहीं मिलता।

इसलिए यदि आप निफ़्टी या बैंक निफ़्टी से अपनी ट्रेडिंग शुरू करते हैं तो आपको लिक्विडिटी की कोई समस्या का सामना नहीं करना पड़ता और आप आसानी से सौदे को काट सकते हैं।

निफ़्टी में भारत की सबसे बड़ी 50 कम्पनियां शामिल रहती हैं। जबकि बैंक निफ़्टी में 12 स्टॉक रहते हैं। इसलिए यदि आप कम स्टॉक पर नज़र रखकर ट्रेड करना चाहते हैं तो बैंक निफ़्टी एक अच्छा विकल्प होता हैं। क्योंकि इसमें टॉप बैंक्स की परफॉरमेंस के आधार पर ही यह इंडेक्स मूव करता हैं।

5. कॉल ऑप्शन का प्रयोग करके ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसा कमाए

ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाने के लिए कॉल ऑप्शन का सर्वाधिक उपयोग किया जाता हैं। कॉल ऑप्शन को ट्रेडिंग की भाषा में CE के नाम से भी जाना जाता हैं। कॉल ऑप्शन में आप किसी स्टॉक या अंडरलाइंग एसेट को ख़रीदते हैं।

कॉल ऑप्शन में शेयर प्राइस बढ़ने के ऊपर दांव लगाया जाता हैं। यदि शेयर प्राइस बढ़ती हैं तो आपको फायदा होता हैं। इसमें आप प्रॉफिट आपके प्रीमियम के अनुसार तय होता हैं। साथ ही इसमें आपको शेयर्स को लॉट में ही खरीदना होता हैं। यहाँ पर आप 10-20 शेयर नहीं खरीद सकते हैं।

लॉट और ऑप्शन प्रीमियम की जानकारी आपको अपने स्टॉक ब्रोकर की एप्प में देखने को मिल जाएगी।

कॉल ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए का एक उदाहरण देखते हैं –

मान लीजिए की ABC लिमिटेड के एक स्टॉक की कीमत वर्तमान में ₹600 चल रही हैं। आपने इस शेयर का एनालिसिस किया हैं और आपको उम्मीद हैं कि इस शेयर की कीमत बढ़ने वाली हैं।

इस प्रकार आपने अपने एनालिसिस के हिसाब से ABC लिमिटेड का कॉल ऑप्शन ख़रीद लिया।

अब इस कॉल ऑप्शन में दो चीजें हो सकती हैं-

  • एक्सपायरी डेट से पहले ABC लिमिटेड के शेयर्स की कीमत बढ़ जाएं – यदि आपके कॉल ऑप्शन की एक्सपायरी से पहले ABC लिमिटेड के शेयर्स प्राइस बढ़ जाते हैं तो आपको लाभ होगा। क्योंकि इससे आपके प्रीमियम की कीमत भी बढ़ जाएगी।
  • एक्सपायरी डेट से पहले ABC लिमिटेड के शेयर्स की कीमत घट जाएं – यदि आपके कॉल ऑप्शन की एक्सपायरी डेट से पहले तक ABC लिमिटेड की शेयर प्राइस नीचे आ जाती हैं तो आपको नुकसान हो जाएगा। क्योंकि ऐसा होने से ऑप्शन प्रीमियम की कीमत घट जाएगी।

मान लेते हैं कि ऊपर वाले उदाहरण में आपने ₹5 प्रति शेयर प्रीमियम पर स्टॉक का कॉल ऑप्शन ख़रीदा था। साथ ही इसमें 600 शेयर्स का लॉट था। तो इसमें आपका कॉल ऑप्शन की एक्सपायरी या ऑप्शन का इस्तेमाल करते समय जो भी प्रीमियम होगा, उस प्रीमियम के अनुसार आपको प्रॉफिट या लॉस होगा।

जैसे की यदि एक्सपायरी पर आपका प्रीमियम बढ़कर ₹6 हो जाता हैं तो आपको 600 शेयर पर ₹1 प्रति शेयर का प्रॉफिट हो जाएगा।

आपको कॉल ऑप्शन तभी खरीदना चाहिए जब आप पूरी तरह से संतुष्ट हैं की आपके शेयर की कीमत बढ़ेगी। यदि आप बिना एनालिसिस के कॉल ऑप्शन ख़रीदते हैं तो आपको नुकसान भी हो सकता हैं।

6. पुट ऑप्शन का प्रयोग करके ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसा कमाए

पुट ऑप्शन का इस्तेमाल करके भी ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाए जा सकते हैं। ऑप्शन ट्रेडिंग में पुट ऑप्शन को PE के नाम से भी जाना जाता हैं। हालांकि पुट ऑप्शन में ट्रेडिंग करने के लिए अधिक पैसो की आवश्यकता होती हैं इसलिए अधिकतर लोग कॉल ऑप्शन लेकर ट्रेड करना पसंद करते हैं।

लेकिन पुट ऑप्शन में कॉल ऑप्शन की तुलना में अधिक पैसा बनाया जा सकता हैं। पुट ऑप्शन में आप शेयर प्राइस गिरने पर दांव लगाते हैं। मतलब की पुट ऑप्शन में शेयर की कीमत गिरने की आशा में ट्रेड लिया जाता हैं।

जब आप किसी शेयर का पुट ऑप्शन ख़रीदते हैं और उसके बाद उस शेयर की कीमत गिरती हैं तो आपको प्रॉफिट होता हैं।

पुट ऑप्शन से पैसा कमाने के तरीके को समझने ने के लिए हम एक उदाहरण लेते हैं –

चलिए मान लेते हैं कि आपने एक एनालिसिस के तहत उम्मीद जताई हैं कि आने वाले कुछ समय में बैंक निफ़्टी में गिरावट हो सकती हैं।

तो इस गिरावट का फ़ायदा उठाने के लिए आपको बैंक निफ़्टी का पुट ऑप्शन खरीदना होगा। यदि आपके अनुमान के अनुसार बैंक निफ़्टी में गिरावट आती हैं तो आपको प्रॉफिट होगा। लेकिन दूसरी ओर गिरावट की जगह बैंक निफ़्टी ऊपर की ओर जाना शुरू कर देता हैं तो आपको लॉस हो सकता हैं।

WhatsApp Join Now
Telegram Join Now

इस प्रकार आप पुट ऑप्शन खरीदकर मंदी का फायदा उठा सकते हैं। हालाँकि पुट ऑप्शन ख़रीदने के लिए कॉल ऑप्शन की तुलना में बहुत ज्यादा पैसों की आवश्यकता होती हैं।

ये भी पढ़ें:

7. ऑप्शन स्प्रेड से पैसा कमाए

ऑप्शन ट्रेडिंग में स्प्रेड से भी पैसा कमाया जा सकता हैं। स्प्रेड से पैसा कमाने में रिस्क काफी हद तक कम हो जाती हैं मतलब की आपका लॉस लिमिटेड हो जाता हैं

स्प्रेड से पैसा कमाने के लिए buy और sell दोनों के साथ रणनीति बनाई जाती हैं। इस प्रकार की रणनीति में आपका प्रॉफिट और लॉस दोनों लिमिटेड हो जाते हैं।

चलिए बुल कॉल स्प्रेड को एक उदाहरण से समझते हैं –

मान लेते हैं की आपको लगता हैं की निफ़्टी 19500 के ऊपर तो जाएगा लेकिन 19600 के ऊपर नहीं जा पाएगा। ऐसी स्थिति में आप बुल कॉल स्प्रेड खरीदकर पैसा कमा सकते हैं ,

  • मान लेते हैं कि आप 19500 का ₹60 पर एक कॉल ऑप्शन खरीद लेते हैं।
  • साथ ही आप 19600 की प्राइस का कॉल ₹24 पर sell कर देते हैं।

अब यदि निफ़्टी एक्सपायरी तक 19500 के नीचे रह गया तो आपका नॉर्मल कॉल ऑप्शन में अधिकतम  नुकसान (50 x ₹60) = ₹3,000 होगा। यहां पर हमने निफ़्टी का लॉट साइज 50 लिया हैं।

लेकिन दूसरी ओर यदि निफ़्टी ज्यादा गिरकर 19000 पर आ जाता हैं और आपने बुल कॉल स्प्रेड लगाया हैं तो आपका अधिकतम नुकसान लॉक हो जाएगा। इसमें आपका नुकसान (₹60-₹25) x 50 = ₹1750 का ही होगा।

इस तरह यदि आप ऑप्शन स्प्रेड का सही इस्तेमाल करना सीख जाते हैं तो आप अपनी रिस्क मैनेज करके अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसा कमाने के लिए किन बातों का ध्यान रखें?

ऑप्शन ट्रेडिंग काफी रिस्क भरी ट्रेडिंग होती हैं। इसमें आपको पैसा कमाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना होता हैं। यदि आप इन ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम फॉलो करेंगे तो आप ऑप्शन ट्रेडिंग से अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

  • आपको बिना ऑप्शन ट्रेडिंग को सही से सीखें और सही जानकारी के बिना कभी नहीं करना चाहिए।
  • ऑप्शन ट्रेडिंग करते समय आपको अपना पूरा पैसा एक साथ नहीं लगाना चाहिए।
  • बिना कोई रणनीति बनाये आपको ऑप्शन ट्रेडिंग करने से बचना चाहिए।
  • हमेशा स्टॉप लॉस का इस्तेमाल करें।
  • अपनी रिस्क लेने की क्षमता के अनुसार ही पैसा लगाए।
  • कोई विशेष इवेंट्स पर ट्रेडिंग करने से बचना चाहिए जैसे की रिजल्ट डे, स्टॉक न्यूज़ आदि।
  • लगातार ट्रेड करने से बचे।
  • कभी भी अपने नुकसान को कवर करने के इरादे से ट्रेड न करें।
  • अपने ट्रेडिंग एग्जिट टारगेट पर कायम रहें।
  • अपने रिस्क लेने की क्षमता के अनुसार ही ऑप्शन ट्रेडिंग करें।
  • उधार के पैसे या लोन लेकर कभी भी ट्रेडिंग न करें।
  • अपनी भावनाओं पर नियंत्रण रखने का प्रयास करें।

यदि आप इन सभी ऑप्शन ट्रेडिंग के नियमों का सही से पालन करेंगे तो आप निश्चित तौर पर सफल होंगे।

FAQ’s Option Trading se Paise kaise Kamaye

  1. ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाने के क्या-क्या तरीके हैं?

    कॉल ऑप्शन, पुट ऑप्शन, स्प्रेड आदि ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमाने के लोकप्रिय तरीक़े हैं। हालांकि भारतीय बाज़ारों में कॉल ऑप्शन का उपयोग सर्वाधिक किया जाता हैं।

  2. ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसा कमाने के लिए क्या करें?

    सबसे पहले आपको एक डीमैट & ट्रेडिंग अकाउंट खुलवाना होगा। इसमें आप F&O सेगमेंट एक्टिवेट करके ऑप्शन ट्रेडिंग शुरू कर सकते हैं।

  3. क्या मैं ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसा कमा सकता हूँ?

    हाँ, कमा तो सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको ऑप्शन ट्रेडिंग सीखनी होगी। बिना ऑप्शन ट्रेडिंग को सही से समझे आप पैसे नहीं कमा सकते। बिना सीखें ऑप्शन ट्रेडिंग में फ़ैल होने वाले ट्रेडर्स की संख्या 98% हैं।

  4. क्या मैं 3 महीने में ट्रेडिंग सीख सकता हूं?

    यदि आप पूरी मेहनत से सीखते हैं तो आप निश्चित तौर पर 3 महीने में ट्रेडिंग सीख सकते हैं। यदि आप ऑप्शन ट्रेडिंग का कोई कोर्स भी लेते हैं तो वो भी 3 महीने के अंदर समाप्त हो जाता हैं।

ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए का निष्कर्ष

ऑप्शन ट्रेडिंग शेयर मार्केट में पैसा बनाने का बहुत ही अच्छा तरीका हैं लेकिन साथ ही जोखिम भरा हैं। ऑप्शन ट्रेडिंग से लगातार पैसे कमाना बहुत ही मुश्किल काम हैं। सिर्फ 2% लोग ही ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कमा पाते हैं। 

इसलिए मेरी राय में यदि आप एक फुल टाइम ट्रेडर नहीं बनाना चाहते तो आपको लॉन्ग टर्म इन्वेस्टिंग पर अधिक ध्यान देना चाहिए। इसमें आप अच्छी कंपनीज में निवेश करके लंबी अवधि में बहुत ही अच्छे रिटर्न बना सकते हैं। 

तो आज इस पोस्ट में हमने जाना की ऑप्शन ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए और ऑप्शन ट्रेडिंग करते समय किन-किन बातों का ध्यान रखें। 

ये भी पढ़ें:

अगर आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इस आर्टिकल को सोशल मीडिया अकॉउंटस पर शेयर करके अपने भाई को जरूर सपोर्ट करें। 

3.9/5 - (7 votes)

नमस्कार दोस्तों ! मैं राज कुमार बैरवा पूंजी गाइड ब्लॉग का फाउंडर हूँ। मैं पूंजी गाइड ब्लॉग पर शेयर मार्केट, म्यूचुअल फंड, पर्सनल फाइनेंस से सम्बंधित जानकारियां शेयर करता हूँ।

Leave a Reply

Punji Guide